कांग्रेस महाधिवेशन: पढ़िये पूर्व मंत्री ‘के.एन त्रिपाठी’ का Exclusive Interview

कांग्रेस महाधिवेशन में हिस्सा लेने दिल्ली आये झारखंड के वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और पूर्व मंत्री ‘के.एन त्रिपाठी’ से ‘झारपोस्ट’ ने कांग्रेस महाधिवेशन में राहुल के दिये गये भाषण, ‘झारखंड कांग्रेस’ के मौज़ूदा हालात और JMM-Congress गठबंधन सहित राज्य के कई अहम मुद्दों पर बात की, पढिये ये ‘एक्सक्लुसिव’ इन्टरव्यू…

Jharpost: आज कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने भाषण में कहा कि कांग्रेस के जो युवा नेता हैं उनमें काफी ऊर्जा काफी और क्षमता है…लेकिन कांग्रेस में युवा और बुजुर्ग नेताओं के बीच एक दीवार है…झारखंड में ये दीवार कैसे खत्म होगी?

KN Tripathi: देखिए नेताओं को कार्यकर्ता से घुलना-मिलना पड़ेगा, उनसे लगातार संपर्क में रहना होगा तो कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जो दीवार महसूस कर रहे हैं वह अपने आप खत्म हो जायेगा।

Jharpost: राहुल गांधी ने आज ये भी कहा कि संगठन में बदलाव की जरूरत है…झारखंड में किस तरह के बदलाव की जरूरत महसूस करते हैं आप?

KN Tripathi: देखिए झारखंड में अभी थोड़ा बदलाव हो गया है प्रभारी बदल गए हैं नए अध्यक्ष बन गए हैं तो अभी थोड़े दिन काम कर लें…फिर आगे देखते हैं।

सवाल: अभी कांग्रेस का JMM से जो गठबंधन हुआ है कांग्रेस ने हेमंत सोरेन के नेतृत्व में चुनाव लड़ने की बात की है आने वाले चुनाव में गठबंधन से कितना फायदा होगा?

KN Tripathi: हां अभी गठबंधन में ही लड़ने में फायदा है, इससे काफी फायदा होगा लेकिन गठबंधन थोड़ा पहले हो गया…

Jharpost: अभी बाबूलाल मरांडी जी से हमारी बात हुई वह भी गठबंधन में आने के लिए तैयार है,आपको लगता है उनके आने से फायदा होगा?

छोटी पार्टियों का जब गठबंधन बनता है तो उससे डेमोक्रेसी मजबूत होती है और विभिन्न पार्टी के लोग जब मिलकर सरकार बनाते हैं तो सब के विचार उस में समाहित होते हैं…इससे कोई एक व्यक्ति या पार्टी मनमानी नहीं करती जैसे अभी प्रधानमंत्री जी पूर्ण बहुमत मिलने के बाद कर रहे हैं। बिना कोई सलाह लिए नोटबंदी कर देते हैं: KN Tripathi, Congress Leader & Ex. Minister, Jharkhand.

Jharpost: लेकिन आपको नहीं लगता कि जिस तरह से क्षेत्रीय पार्टियां हर राज्य में मजबूत हो रही हैं उससे कांग्रेस को खतरा है?

KN Tripathi: कांग्रेस के लिए खतरा नहीं है…हां कांग्रेस को ज्यादा काम करने की जरूरत है जहां हम काम नहीं करेंगे क्षेत्रीय पार्टियां उभरेंगी।

Jharpost: आपने बड़ी बात कही… कि ‘जहां राष्टीय दल काम नहीं करेंगे क्षेत्रीय पार्टियां उभरेंगी’। तो झारखंड में क्षेत्रीय पार्टियों के मजबूत होने के कारण क्या हैं?

KN Tripathi: 18 वर्षों में हमने जो काम किया है,उसी का परिणाम है कि झारखंड में कांग्रेस का संगठन मजबूती से खड़ा है। लेकिन अभी और मजबूती से मिलकर काम करने की जरूरत है।

Jharpost: एक आखरी सवाल, झारखंड में जो राज्यसभा चुनाव होने वाले हैं, खबरें आ रही है की BJP दूसरे सीट के लिए भी आश्वस्त है… उनके दूसरे उम्मीदवार कुछ विधायकों से संपर्क में है कांग्रेस कितना तैयार है?

KN Tripathi: BJP हमेशा से राज्यसभा चुनाव में धनबल का प्रयोग करती आई है…इससे पहले भी इन्होंने एक ऐसे ही कैंडिडेट को खड़ा किया था जिसमें काफी पैसा पकड़ा गया था बहुत सारे विधायक भी फंसे थे… उसके बाद गुजरात में अभी आपने देखा कि अहमद पटेल वाले चुनाव में अमित शाह ने कैसे नंगा नाच किया, झारखंड में भी पिछली बार विधायकों को खरीद-फरोख्त करके BJP राज्यसभा जीत गई थी झारखंड में इस बार फिर धनबल का प्रयोग करके विधायकों को खरीद के जीतना चाहती है।

Jharpost: लेकिन कांग्रेस-झामुमो गठबंधन के पास जो आंकड़ा है वह तो बहुमत के करीब है?

KN Tripathi: राज्यसभा के लिए झारखंड में 2 ही सीट के लिए चुनाव हो रहे हैं तो BJP को यहां तीसरा कैंडिडेट देने की जरूरत ही नहीं थी। और अगर BJP ने तीसरा उम्मीदवार खड़ा किया है तो वे ज़रुर खरीद फरोख्त कर रहे होंगे।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

w

Connecting to %s